July 10, 2008

Aap Ka Saath, Saath Fool-on Ka

इस बार मैके से बक्से में भर लायी हूँ
जवानी* के वोह गाने जिन्हें रोज़ सुना करती थी।
बाज़ार, अभिमान, खामोशी तो सब आ गयीं
मासूम का CD कवर कम्बख्त खाली निकला।

* हाँ हाँ भाई अभी तो मैं जवान हूँ
(खूबसूरती का अपमान हूँ
जोडों के दर्द से परेशन हूँ
चार दिन की मेहमान हूँ
पर अभी तो मैं जवान हूँ :o)

3 comments:

Anonymous said...

he he!! here goes my first comment in this blog....oh great one!

Rash said...

mere paas masoom ka cover aur andar cassette bhi hai

Twilight Fairy said...

LOL funny :)

Masoom was the only cassette I had as a teen and I made the mistake of taking it to hostel with me. Kuch nahi bacha us cassette ka